X Close
X

गुड माॅर्निंग मुंबई! 11 मार्च 2019, आज के शुभ मुहूर्त...


Jabalpur:

प्रदीप कुमार द्विवेदी (8302755688). आज का दिन- मेष, मिथुन, कर्क, तुला, वृश्चिक, कुम्भ राशि वालों के लिए उत्तम है, तो कन्या राशि वाले सतर्कता से कार्य करें. विविध शुभ कार्यों के लिए मुंबई में आज- 11 मार्च 2019 को शुभ मुहूर्त इस प्रकार हैं...

*हर कार्य के लिए शुभ अभिजित मुहूर्त- दिन में 12:25 से 01:12 बजे तक.

*शुभ कार्य के लिए वर्जित समय, राहुकाल- दिन में 08:23 से 09:51 बजे तक.

*मुंबई में चौघड़िया... सोमवार, मार्च 11, 2019

अमृत - 06.54 से 08.23 

काल - 08.23 से 09.51 

शुभ - 09.51 से 11.20 

रोग - 11.20 से 12.49 

उद्वेग - 12.49 से 02.17 

चर - 02.17 से 03.46 

लाभ - 03.46 से 05.15 

अमृत - 05.15 से 06.43 

चर - 06.43 से 08.15 

रोग - 08.15 से 09.46 

काल - 09.46 से 11.17 

लाभ - 11.17 से 12.48 

उद्वेग - 12.48 से 02.19  

शुभ - 02.19 से 03.51  

अमृत - 03.51 से 05.22  

चर - 05.22 से 06.53

*यहां दी गई जानकारी केवल संदर्भ हेतु है, अपनी स्थानीय परंपराओं के अनुसार इसका उपयोग कर सकते हैं.

*अपने ज्ञान के प्रदर्शन और दूसरों के ज्ञान की परीक्षा में समय व्यर्थ न गंवाए, क्योंकि ज्ञान अनंन है और जीवन का अंत है! 

शुभ मुहूर्त से ज्यादा महत्वपूर्ण है शुभ कर्म!

जीवन में सफलता के लिए शुभ मुहूर्त का ध्यान रखें किन्तु शुभ कर्मों की उपेक्षा न करें. शुभ कर्म, शुभ मुहूर्त से ज्यादा महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि शुभ मुहूर्त तो महज अच्छे परिणाम के लिए राह आसान करता है, लेकिन शुभ कर्म के हमेशा अच्छे ही परिणाम होते हैं. अगर ऐसा नहीं होता तो न कभी रावण नाकामयाब रहता और न ही दुर्योधन पराजित होता. रावण तो स्वयं ज्योतिष का अच्छा ज्ञाता था और सभी राजा-महाराजाओं के पास अपने खास ज्योतिष होते थे, अर्थात... शुभ समय जानने की सुविधा सभी के पास थी.

दरअसल किसी शुभ क्षण में प्रारम्भ किए गए कार्य का परिणाम अच्छा होता है, लेकिन सुक्ष्मता से ऐसे शुभ क्षण को पहचानना और कार्य आरम्भ करना बहुत मुश्किल होता है. जिनके इरादे नेक नहीं होते हैं वे कभी शुभ क्षण में कार्य आरम्भ नहीं कर पाते हैं और शुभ संकल्प के साथ कार्य आरम्भ करते हैं, उन्हें शुभ मुहूर्त अपने आप आ मिलते हैं.

मुहूर्त के लिए अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग गणनाएं, मान्यताएं और विश्वास है. कहीं चौघडिया महत्वपूर्ण हैं तो कहीं राहुकाल. कहीं तिथि उपयोगी है तो कहीं वार. इसलिए कई बार एक क्षेत्र में जिस समय को शुभ मुहूर्त माना जाता है, किसी अन्य क्षेत्र में वही समय शुभ नहीं माना जाता है. बाधा रहित कामयाबी के लिए शुभ समय में कार्य शुरू करने का महत्व है, लेकिन इससे भी ज्यादा जरूरी यह है कि विश्वास, प्रसन्नता और शुभ संकल्प के साथ कार्य आरम्भ किया जाए. शुभ कर्म ही शुभ परिणाम की दिशा में ले जाता है!